शहर में माफिया के संबंध में सघन अभियान के साथ गैंगस्टर के खिलाफ गुंडा एक्ट में होगी कठोर कार्रवाई

0
(0)

– शहर में कानून व्यवस्था कायम रहे, इसके लिए प्रभावी कार्यवाही होगी-मेहता

बीकानेर, 25 अक्टूबर। बीकानेर में कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से जिला मजिस्ट्रेट नमित मेहता द्वारा कलेक्ट्रेट के सभागार में पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के साथ रविवार को महत्वपूर्ण बैठक करते हुए पुलिस अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए गए है।
    मेहता ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुये पुलिस के अधिकारियों के द्वारा आपसी सांमजस्य स्थापित करते हुये कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनानी है। आगामी दिनों में त्यौहार है। एक कार्य योजना बनाते हुए आपसी सामंजस्य के साथ जिले की कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाने में और अधिक सावचेत रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था के प्रति संदेश एवं विश्वास यहां की जनता में जगे इसके लिए पुलिस के द्वारा निष्पक्ष जांच के आधार पर शहर में सभी प्रकार के माफियाओं पर दंडात्मक एवं कठोरतम कानूनी कार्यवाही प्रस्तावित की जाए।
  मेहता ने कहा कि कानून व्यवस्था को शुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से विभिन्न क्षेत्रों में जो माफिया कार्य कर रहे हैं, उनके संबंध में एक सघन अभियान संचालित करते हुए गैंगस्टर के खिलाफ गुंडा एक्ट तथा अन्य कठोर कार्रवाई की जाए।
  जिला मजिस्ट्रेट ने शहरी क्षेत्र में प्रभावी नाकेबंदी पर जोर दिया और कहा कि हथियारबंद पुलिस की गश्त की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि गश्त के दौरान वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की फील्ड में मौजूदगी रहे। साथ ही पुलिस विभाग के खुफिया सूचना तंत्र को मजबूत किया जाए। उन्हांेने अवैध हथियारों, सट्टे बाजारियों पर प्रभावी कार्यवाही के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने अवैध शराब की बिक्री करने वालों एवं अन्य नशीली वस्तुओं की आपूर्ति करने वालों पर सख्त कार्रवाई संपादित करने के भी निर्देश दिए।
    उन्होंने कहा कि पुलिस थाना नया शहर का क्षेत्र बड़ा होने के कारण इस थाना क्षेत्र में पुलिस चैकियां स्थापित की जाए। उन्होंने फिरौती, रंगदारी, वसूली से संबंधित गैंग के सदस्यों की अभियान चलाकर धरपकड़ करने के निर्देश दिए।
  जिला मजिस्ट्रेट ने कहा कि शहर मंे हाल ही घटित घटनाओं देखते हुए पुलिस का और अधिक दायित्व बढ़ जाता है। कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था मानकों के अनुसार कायम करने के लिए अधिकारियों के द्वारा निष्पक्ष रुप से कार्यवाही सुनिश्चित की जाए ताकि कानून व्यवस्था के संबंध में पुलिस के प्रति जनता में सकारात्मक संदेश पहुंच सके।
  जिला मजिस्ट्रेट कहा कि यदि पुलिस विभाग को प्रभावी पुलिसिंग के लिए अन्य विभाग से सहयोग की आवश्यकता हो, वहे उपलब्ध करवा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि अपराधियों के विरूद्ध की गई कार्यवाही आमजन को धरातल पर दिखनी चाहिए। आमजन में ’विश्वास व अपराधियों में भय’ का पुलिस की कार्यशैली में दिखना चाहिए ताकि अपराधियों में भय कामय किया जा सके।  
   बैठक में पुलिस अधीक्षक प्रहलाद कृष्णिया ने शहर के समस्त थानाकिधाकारियांे को निर्देशित करते हुए कहा कि शहर में अपराधों को रोकने के संबंध में अपराधियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाए। गुंडा एक्ट तथा अन्य कार्यवाही निष्पक्षता के साथ त्वरित गति से प्रस्तावित की जाए ताकि अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों के विरूद्ध निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित हो सके।
जिला पुलिस अधीक्षक ने यह विश्वास दिलाया कि आने वाले दिनों में पुलिस द्वारा और अधिक प्रभावी कार्यवाही की जायेगी एवं अपराधों पर अंकुश लगाया जायेगा।
  बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए.एच.गौरी, अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक शहर पवन मीना, वृताअधिकारी पुलिस सुभाष शर्मा सहित शहर के पुलिस थानाधिकारी उपस्थित थे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply