बीकानेर में कोरोना का अटैक जारी है, देखें पूरी लिस्ट

5
(3)

बीकानेर। बीकानेर में कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा अब बहुत तेजी से बढ़ रहा है। जिले में शुक्रवार 11 सितंबर को भी दो दर्जन के करीब कोरोना पाॅजीटिव आए हैं। सीएमएचओ डाॅ बी एल मीणा ने बताया कि आज 21 और नए पाॅजीटिव केस आए हैं । इसी के साथ बीकानेर में कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ कर 6193 हो गया है । बता दें कि बीकानेर में कल तक यह आंकड़ा 6172 था। इसमें से 4986 ठीक हो चुके और 103 की सांसें थम चुकी थीं । कल तक 1083 एक्टिव पाॅजीटिव कोरोना मरीज ही बचे थें। आज और नए पाॅजीटिव केस आने के बाद यह आंकड़े बदल जाएंगे। जो नहीं बदलेगा तो वह है चंद लोगों की आदतें। जिसके चलते कोरोना संक्रमण की इस चैन को तोड़ने में मुश्किलें आ रही हैं। ऐसे लोगों की समझाइस को लेकर आज एक पोस्ट मिली जो द इंडियन डेली के पाठकों के साथ साझा कर रहा हूँ। यह पोस्ट महज समझाइस और बीकानेर की सेहत को लेकर है। इसे अन्यथा मत लेना और प्लीज सहयोग करना-

20200911 131922569629755425792367

एक समझाइश,
एक चेतावनी,
एक हितेशी का कहना
कृपया पुरा पढ़ें, हल्के में नहीं लें और सख्ती से अमल करें।

आदरणीय जनता जनार्धन

ययसादर नमस्कार
● कोरोना केस, टेस्ट ज़्यादा होने से नहीं बढ़ रहे।

केस इसलिये बढ़ रहे हैं कि

-6 महीने बाद भी आपको ये समझ नहीं आया कि मास्क नाक के ऊपर रखना है और दूसरों से दूरी बना कर रखनी है

-आपको शव यात्राओं में भी शरीक होना है , बरसात में कायलाना, अरना झरना, कदमकन्डी घूमने का कोई मौका नही छोड़ना

-आप को बिना जरूरत के बाजार में भी जाना है

-आप को जिनसे बीते 6 महीनों में नही मिले , उन सब से अब जब कोरोना पूरे शबाब पर है , तब मिलने भी जाना है

-अब जब सरकारी मशीनरी अन्य जरूरी कामों में वापसी कर रही है , तब आप को तनिक भी कष्ट उठाये , रोज इधर उधर सारे जहान की पंचायती भी करनी है और हर वो काम करना है जिसमे आप खुद को और परिवार को संक्रमित होने का मौका देते है ।

● आप चकित हैं कि आपके दादाजी को कोरोना कैसे हो गया, जब कि वो तो 6 महीने से घर से बाहर ही नहीं निकले! *तो आपको लाउड स्पीकर से सूचित हो कि उन्हें कोरोना आपके घर के उस मेंबर की वज़ह से हुआ जो बाहर निकला और जिसने बचाव के इन बहुत ही सिंपल नियमों का पालन नहीं किया और फ़िर अपने साथ कोरोना को घर ले कर आया। वो खुद तो बच गया, लेकिन उसने घर के बुज़ुर्ग का बैंड बजा दिया।*

● आप गुस्से में हैं कि हॉस्पिटल ने आपको लूट लिया। आपके टेस्ट की ग़लत रिपोर्ट दे दी , आपके साथ वालो को किसी को तो हुवा ही नही , आपको कोरोना कैसे हो सकता है । तो प्रभु मेरी विनती है कि सबसे पहले गुस्सा ख़ुद पर करें कि

  • आप हॉस्पिटल गए किसलिये?
  • आपकी तबियत ख़राब हुई क्यों?
  • आपको कोरोना हुआ कैसे?
  • क्या आपने मास्क ढंग से नहीं पहना?
  • क्या आप दूसरों से चिपके चिपके नही घूम रहे थे ?
  • क्या आपने हाथ ठीक से साफ़ नहीं किये?

-क्या आप अपने जरूरी कामों का कहकर इधर-उधर भटकते नही फिर रहे थे ?

अग़र आपने कोई कोताही नहीं बरती, तो आपको कोरोना हो ही नहीं सकता

( ऐसा आप मानते है )

लेकिन श्रीमान जी , आपके ये सारे तर्क कोरोना नही समझता

ये एक ऐसा वायरस है जिसके प्रकृति बहुत अलग है , ये कितनी डोज में शरीर मे enter होता है , कितनी बार होता है , किस माध्यम से होता है और फिर उस वायरस के प्रति आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कितनी है , ये वायरस खुद 10-12 टाइप का है , आपको कौनसी टाइप वाला का कितनी डोज में , कितनी बार मे हुवा है

इस सब पर निर्भर करता है आपकी रिपोर्ट +ve आएगी या -ve

आपकी रिपोर्ट +ve लाकर किसी को 1 रुपया भी नही मिलने वाला और आपकी किसी से कोई अदावत भी नही है और अदावत हो तो भी रिपोर्ट कम से कम 6 घण्टे की प्रक्रिया के बाद आती है , आपकी रिपोर्ट +ve आएगी या -ve , इसको कोई manage नहीं कर सकता

~~~ ये बात आप बिना भावुक हुए मान लीजिये।

● आपने कोरोना से बचने में घनघोर लापरवाही की, लेकिन आप ये चाहते हैं कि आपका इलाज़ करने वाला डॉक्टर, नर्स बिना ख़ुद की जान की परवाह किये, आपके बिल्कुल नज़दीक आ कर आपको पूरा चैक करे, दिन में चार बार आपको देखने आए, आपकी पल पल की मॉनिटरिंग करे , आप खुद अपने परिवार वाले +ve से भागे भागे फिर रहे है पर चाहते है कि डॉक्टर , आपको पूरी attention दे तो वाकई में बड़े सयाने हैं आप !!

● इस झगड़े को ख़त्म करने का एक ही उपाय है कि आप डॉक्टरों और हॉस्पिटल पर तान तोड़ना छोड़ें, कोरोना से बचने के सरल नियमों का समझ और ईमानदारी से पालन करें। ना होगा कोरोना, और ना आपको
अस्पताल जाना पड़ेगा । ऐसा नहीं करना है तो लादें कोरोना को अपने सिर, फ़िर प्राइवेट अस्पताल की ओर मुंह करके, बिना वहां पधारे ही दूर से उसे गाली दे लें

और

फ़िर सरकारी अस्पताल की तरफ़ अपनी गाड़ी मोड़ लें…क्योंकि सरकारी तो बैठे ही आपकी सेवा में है ।

ईश्वर आपको नियमों को समझने लायक सहयोग दे और आपको सदा स्वस्थ रखे ।
आपका हितेषी
चंद्रशेखर पुरोहित
जागरूक जन मंच
7597950772

आपकी प्रतिक्रिया उपरोक्त नंबर पर अवश्य देवे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 3

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply