बढ़ती बिजली दरों को लेकर भाजपा का हल्ला बोल ऊर्जा मंत्री बी.डी. कल्ला का पुतला फूंक दर्ज किया विरोध

0
(0)

बीकानेर। वैश्विक महामारी कोरोना से जूझ रहे प्रदेश में राजस्थान सरकार ने कोरोना कालखण्ड में जनता को राहत के बजाय बिजली बिलों में बढोतरी  कर करन्ट देने का काम किया है कॅरोना कालखंड में 4 माह के बिजली के बिल माफ करना, स्थायी चार्ज बंद करने, फ्यूल चार्ज वापस लेने और किसानों को दी जा रही सब्सिडी को वापस देने की मांग को ले कर धरना प्रदर्शन किया गया।
भारतीय जनता पार्टी शहर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह की अगुवाई में आज बिजली कंपनी बीकेईएसएल के दफ्तर पर भाजपा के हल्ला बोल कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री बी.डी. कल्ला का पुतला फूंक कर प्रदर्शन किया अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने अपने जन घोषणा पत्र में बिजली की दरों में बढ़ोतरी नहीं करने का वादा किया था। इसके बावजूद कोरोना कालखण्ड में प्रदेश की जनता को राहत देने के बजाय चार से पांच बार फ्यूल चार्ज, स्थाई शुल्क में बढोतरी कर जनता पर भार डाला गया है सरचार्ज के रूप में 1 हजार 40 करोड़ का अतिरिक्त भार डालकर कोढ़ में खाज का कार्य किया है सरकार द्वारा प्रत्येक उपभोक्ता पर 500 से लेकर 2000 रुपए प्रतिमाह तक का अतिरिक्त भार डालने का जनविरोधी कार्य किया गया है।
पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ सत्यप्रकाश आचार्य ने कहा भारतीय जनता पार्टी पांच वर्ष इंतजार नहीं करेगी तथा जनविरोधी नीतियों का विरोध कर राज्य सरकार को घेरा जाएगा अपनी नाकामियों व जनविरोधी कार्यो से जनता का ध्यान बांटने के लिए कांग्रेस के नेता बार-बार भाजपा व मोदी पर झूठे आरोप लगाते है जबकि राज्य सरकार हर स्तर पर असफल सिद्ध हो रही है सरकार प्रदेश में कोरोना प्रबंधन में लाचार नजर आ रही है।
भाजपा राष्ट्रीय परिषद सदस्य विजय आचार्य ने बिजली बिलों में वृद्धि का विरोध करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार राजस्थान के इतिहास की ऐसी पहली निष्ठुर सरकार है, जिसने जनता की भावनाओं को लगातार आहत किया है।
प्रदेश आईटी सेल संयोजक अविनाश जोशी ने कहा बिजली बिलों में वृद्धि के विरोध में प्रदेश भाजपा द्वारा निर्धारित हल्ला बोल कार्यक्रम के तहत प्रदर्शन का नेतृत्व किया उन्होंने कहा कि कोरोना संकट में राजस्थान सरकार ने गरीब के घर में अंधेरा कर दिया है बिजली बिल माफ करना तो दूर की बात, बिल को सरकार की कमाई का मुख्य साधन बना दिया है।

भाजपा महामंत्री मोहन सुराणा ने कहा बीकानेर के लिए दुर्भाग्य की बात है ऊर्जा मंत्री बीकानेर से है और बीकानेर की जनता इस निजी कंपनी की तानाशाही से त्रस्त है और जबरन मीटर बदलने ओर वीसीआर भरने के अलावा कंपनी की कोई उपलब्धि नही है सुराणा ने बिजली कंपनी के अधिकारी शांतनु भटाचार्य को चेतावनी देते हुए कहा जबरन मीटर बदल कर तेज गति के मीटर लगाने का कार्य बीकानेर में नही करने दिया जाएगा।
भाजपा नेता रवि शेखर मेघवाल ने कहा कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में बिजली की दरें नही बढ़ाने की बात कही और आज गहलोत सरकार ने बिजली कंपनी के साथ मिलकर बिजली दरों के नाम पर खुली लूट मचा रखी है जिसे भाजपा का कार्यकर्ता सहन नही करेगा और अगर सरकार आमजन को राहत नही देती है तो हम निरन्तर इस लुटेरी सरकार के खिलाफ आंदोलन जारी रखेंगे।
इससे पूर्व आज सभी मंडलों ने मंडल अध्यक्षो की अगुवाई में प्रत्येक सब स्टेशन पर प्रदर्शन कर संबंधित अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा गया।
आज के इस प्रदर्शन,पुतला दहन कार्यक्रम में उपमहापौर राजेन्द्र पंवार,रवि शेखर मेघवाल,मधुरिमा सिंह,निर्मला खत्री,बंसीलाल तंवर,अशोक प्रजापत,कौशल शर्मा,मनीष आचार्य,सुमन शेखावत,प्रोमिला गौतम,भूपेंद्र शर्मा,वेद व्यास,मनीष सोनी,विजय उपाध्याय,चंद्र गहलोत,नरसिंह सेवक,मुकेश ओझा,जेठमल नाहटा,विनोद करोल,शिखरचंद डागा,विक्रम राजपुरोहित,निशांत गौड़,महेंद्र ढाका,हेमंत कच्छावा,नवरत्न सिसोदिया,मुकेश पंवार, बजरंग सोखल,जमनालाल गजरा,शिव कुमार रंगा,सरिता नाहटा,इंद्रा व्यास,विमल पारीक, शशि नैयर,अनुराधा आचार्य,कमल गहलोत,इमरान क्यामखानी,मयूर शर्मा के साथ सैंकड़ो की संख्या में आमजन व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply