पीटीईटी-2020 के आवेदनों में त्रुटि सुधार की तिथि 10 मई तक बढाई

0
(0)

बीकानेर। समन्वयक, पीटीईटी कार्यालय द्वारा गत वर्ष पीटीईटी-2019 की राज्य स्तरीय परीक्षा के सफल संचालन के उपरान्त राज्य सरकार को शुद्ध बचत के रूप में लगभग तीस करोड़ की राशि मिलने की संभावना है। इस राशि में से सोलह करोड़ रूपए पूर्व में राजकोष में जमा करवाए जा चुके हैं। शेष राशि का अन्तिम हिसाब तैयार कर शीघ्र ही भिजवाया जा रहा है। प्राचार्य की उपस्थिति में समन्वयक मण्डल की बैठक में निर्णय लिया गया कि बचत राशि में से राजकीय डूँगर महाविद्यालय, बीकानेर के हिस्से की राशि लगभग पन्द्रह करोड़ में से पांच करोड़ की राशि कोविड-2019 संकट के चलते मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करवाई जाए। इस हेतु सहमति पत्र राज्य सरकार को उच्च शिक्षा मंत्री के माध्यम से प्रेषित किया गया है। बीकानेर में कोविड-2019 संकट की घडी में आज उच्च शिक्षा मंत्री भंवरसिंह भाटी ने पीटीईटी-2020 कार्यालय की प्रेरणा से आई.सी.आई.सी.आई. बैंक, रानी बाजार द्वारा उपलब्ध करवाये गये। साथ ही सूखी राशन सामग्री के पैकेट, सेनेटाइजर, मास्क जरूरतमन्दों को वितरण हेतु हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर मंत्री भाटी ने बैंक का आभार जताया। कार्यक्रम में डाॅ.सतीश कौशिक, प्राचार्य राजकीय डूंगर महाविद्यालय, बीकानेर, डाॅ.जी.पी.सिंह, समन्वयक पीटीईटी, डाॅ.रविन्द्र मंगल, सह समन्वयक तथा डाॅ.राकेश हर्ष, सहायक निदेशक, काॅलेज शिक्षा, बीकानेर सहित कई अधिकारीगण उपस्थित थे। पीटीईटी समन्वयक डाॅ. जी.पी. सिंह ने बताया कि पीटीईटी-2020 के आवेदन पत्रों में ऑनलाइन त्रुटि सुधार के लिए 10 मई 2020 तक बढाई जाती है। साथ ही समन्वयक ने बताया कि लाॅकडाउन की समस्या को देखते हुए आवेदन पत्र भरने से वंचित रह गये अभ्यर्थियों को लाॅकडाउन की समाप्ति के पश्चात् एक अवसर और दिया जायेगा। इस हेतु छात्र नियमित रूप से पीटीईटी-2020 की अधिकृत वैबसाईट का अवलोकन करते रहें।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply