IMG 20221207 WA0017

महिला स्वयं सहायता समूहों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता

0
(0)

*संभाग स्तरीय अमृता हाट मेला शुरू*

बीकानेर,7 दिसंबर। संभाग स्तरीय अमृता हाट मेला बुधवार को शुरू हुआ। जयनारायण व्यास कॉलोनी स्थित ग्रामीण हाट में लगे मेले में पहली बार राज्य के 33 जिलों के महिला स्वयं सहायता समूहों सहित कुल 161 दुकानें लगाई गई हैं।
मेले का उद्घाटन संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के. पवन ने किया। उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़कर उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त एवं समर्थ बनाने की दिशा में यह मेला महत्वपूर्ण रहेगा। इस मेले के माध्यम से महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा निर्मित मूल्य संवर्धित उत्पादों को बाजार मिलेगा, जिससे इनकी पहचान बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि यह मेला महिलाओं को आगे बढ़ने के अवसर देगा। उन्होंने आमजन से इस आयोजन में बढ़-चढ़कर भागीदारी निभाने का आह्वान किया, जिससे सरकार की मंशा के अनुसार यह सफल हो सके।
महिला अधिकारिता विभाग की उपनिदेशक मेघा रतन ने बताया कि प्रदेश में पहली बार अमृता हाट मेले में 161 स्टॉल लगाए गए हैं। उन्होंने बताया कि एक स्टॉल से न्यूनतम 500 रुपये की खरीदारी करने वालों को लक्की ड्रॉ कूपन दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि पहली बार बीएसएफ द्वारा भी स्टॉल लगाई गई है।

*इन उत्पादों की लगी दुकानें*
उन्होंने बताया कि मेले में नमदा खिलौने, टैराकोटा, बैडशीट, कशीदाकारी कपड़े, हाथ से निर्मित विभिन्न सामान, साबुन, जूते, चप्पल,पेंटिंग, रेडीमेड कपड़े, खेस, चद्दर, शहद, पापड़- बड़ी, पंजाबी शूट, मसाले, लाख की चूड़ियां, मणिहारी का सामान, पूजा थाली, बंदरवाल, नागौरी मैथी, खिलौने, गवर ईशर, साड़ियां, कपड़े एवं चद्दर के बैग एवं अन्य सामान विक्रय के लिए उपलब्ध रहेंगे। मेला स्थल पर विभिन्न सरकारी विभागों द्वारा भी स्टॉल लगाई गई है। सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय द्वारा फ्लैगशिप योजनाओं पर आधारित साहित्य वितरित किया गया।

IMG 20221207 WA0018

*प्रतिदिन होंगे विभिन्न आयोजन*
सात दिवसीय अमृता हाट मेला प्रतिदिन सुबह 11 से रात्रि 9 बजे तक खुला रहेगा। इस दौरान प्रतिदिन अनेक कार्यक्रम होंगे। इस श्रंखला में 8 दिसंबर को खेलकूद प्रतियोगिता, 9 को लोकनृत्य प्रतियोगिता और फैशन शो, 10 को संगीत संध्या, 11 को जादूगर शो और 12 दिसंबर को उद्यमिता विकास और सेल्समैनशिप विषय पर कार्यशाला का आयोजन होगा। समापन समारोह 13 दिसंबर को आयोजित किया जाएगा। इसी श्रंखला में महिला स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को बीकानेर के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण करवाया जाएगा। इसी प्रकार महिलाओं को प्रतिदिन योगाभ्यास करवाया जाएगा और इनके स्वास्थ्य की जांच के लिए शिविर का आयोजन होगा।
इस अवसर पर अतिरिक्त संभागीय आयुक्त ए.एच.गौरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ओमप्रकाश, नगर निगम आयुक्त गोपालराम बिरडा, महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक शारदा चौधरी, जिला उद्योग केंद्र की महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सहायक निदेशक हरिशंकर आचार्य बीएसएफ के आलोक शुक्ला, जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी.पी.पच्चीसिया बतौर अतिथि मौजूद रहे।

इससे पहले संभागीय आयुक्त डॉ.नीरज के पवन ने फीता काटकर और दीप प्रज्वलित कर मेले का उद्घाटन किया। उन्होंने स्टॉल का निरीक्षण करते हुए उत्पादों के बारे में जानकारी ली। कार्यक्रम के दौरान बीएसएफ बैंड ने सुरमधुर स्वर लहरियां बिखेरी एवं देशभक्ति से ओतप्रोत गीत प्रस्तुत किए। स्थानीय कलाकारों द्वारा लोक नृत्य प्रस्तुत किए गए। कार्यक्रम का संचालन ज्योति प्रकाश रंगा ने किया। इस अवसर पर महिला अधिकारिता विभाग के सरंक्षण अधिकारी सतीश परिहार, प्रचेता विजयलक्ष्मी जोशी सहित अन्य कार्मिक उपस्थित रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply