Picsart 22 06 10 17 22 30 242 scaled

116 गौशालाओं को अब तक 22 करोड़ रुपए का अनुदान वितरित, पूर्ण पारदर्शिता से हो खाद-बीज वितरण : कलक्टर

0
(0)

कृषि, उद्यानिकी और पशुपालन विभाग की योजनाओं की समीक्षा कर दिए निर्देश

बीकानेर, 10 जून। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद ने कहा कि खरीफ 2022 के लिए खाद और बीज समय पर और पूर्ण पारदर्शित से वितरित करवाना सुनिश्चित किया जाए।
शुक्रवार को कृषि, उद्यानिकी और पशुपालन विभाग की योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुए जिला कलक्टर ने कहा कि खरीफ फसलों के लिए किसानों को खाद की कमी ना रहे, साथ बीजों की गुणवत्ता भी सुनिश्चित की जाए की जाए। उन्होंने बताया कि जिले में खरीफ के दौरान मोठ, मूंग, ग्वार, बाजरा, कपास और मूंगफली आदि की बुवाई की जाती है। इनके लिए समय पर बीज मिलना सुनिश्चित हो।
जिला कलक्टर ने किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के क्लेम समय पर भुगतान करवाने के भी निर्देश दिए।

माटी परियोजना में अब तक हुए कार्य की समीक्षा करते हुए भगवती प्रसाद ने कहा कि इस योजना के द्वितीय चरण के तहत जिले के 25 गांवों से 1 हजार 250 किसानों के चयन की प्रक्रिया को समय पर पूरा कर लिया जाए। उन्होंने चयनित किसानों की निजी फाइल संधारित करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि परियोजना के पहले चरण में अब 344 गांवों में कृषक गोष्ठियां आयोजित की जा चुकी हैं।

पशुपालन महत्वपूर्ण आयाम
जिला कलेक्टर ने कहा कि किसानों की आय बढ़ाने में पशुपालन महत्वपूर्ण आयाम है। किसानों को इसके लिए प्रेरित किया जाए। उन्होंने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को कृत्रिम गर्भाधान के लक्ष्य पूरे करने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि जिले की 116 गौशालाओं को अब तक 22 करोड़ रुपए का अनुदान वितरित किया जा चुका है। जिला कलक्टर ने पशु टीकाकरण तथा पशुओं में लंपी डिजीज की भी जानकारी ली। बैठक में उपनिदेशक कृषि (विस्तार) कैलाश चौधरी, संयुक्त निदेशक पशुपालन डॉ. वीरेंद्र नेत्रा, उद्यानिकी विभाग की सहायक निदेशक रेणु वर्मा उपस्थित रहे।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply