Picsart 22 05 29 18 10 54 748

सेवा के लिए संसाधन नहीं, भाव और पात्रता की आवश्यकता

0
(0)

नोखा: अपना घर आश्रम नोखा में आज 600 आवासीय क्षमता के “प्रभु आवास” और “दीनदयाल सत्संग हॉल” का लोकार्पण किया गया। लोकार्पण कार्यक्रम में अपना घर आश्रम भरतपुर के संस्थापक डॉक्टर बी एम भारद्वाज और डॉक्टर माधुरी भारद्वाज के अलावा संभागीय आयुक्त नीरज के. पवन, पूज्य रामेश्वरानंद जी महाराज (पीठाधीश्वर ब्रह्म गायत्री, आश्रम बीकानेर), गोवत्स राधा कृष्ण महाराज, नोखा विधायक बिहारी लाल बिश्नोई, बीकाजी ग्रुप के शिवरतन अग्रवाल (फन्ना बाबू), द्वारकाप्रसाद पचीसिया, राजेन्द्र डीडवानिया, अपना घर आश्रम के राष्ट्रीय सचिव चंद्रशेखर, अपना घर भरतपुर के संरक्षक वीरपाल सिंह, बनारस आश्रम के डॉ. के. निरंजन, महिला आश्रम दिल्ली के नरेश जैन, पुरुष आश्रम दिल्ली के अशोक बंसल, पुरुष आश्रम पूँठ खुर्द दिल्ली के रामपाल बागड़ी, अनंतवीर जैन, नरेश मित्तल, शैलेन्द्र यादव, शिवरतन पुरोहित, अमित अग्रवाल उपस्थित थे।

इस अवसर पर लोकार्पण कार्यक्रम में बोलते हुए अपना घर आश्रम के संस्थापक डॉक्टर बी एम भारद्वाज ने कहा की सेवा करने के लिए संसाधनों की नहीं अपितु पात्रता की आवश्यकता होती है यदि हमारी पात्रता है तो सेवा करने हेतु हमारे को संसाधन उपलब्ध हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि अपना घर के वास्तविक हीरो यहां प्रभुजीओ की सेवा तन, मन व पूर्ण मनोयोग से करने वाले सेवा साथी हैं। ये लोग अपने जीवन को इनकी सेवा में लगाने वाले सेवा प्रदाता है जिनका सानी कोई नहीं हो सकता।

संभागीय आयुक्त नीरज के पवन ने कहा पिछले 17 वर्षों से वह अपना घर आश्रम से जुड़े हुए हैं और भरतपुर कलक्टर रहते हुए इनकी सेवा को और उसकी प्रामाणिकता को उन्होंने अनुभव किया है। नोखा विधायक बिहारीलाल बिश्नोई ने इस अवसर पर विधायक कोटे से एक एंबुलेंस अपना घर आश्रम को देने की घोषणा के साथ विश्वास व्यक्त किया कि नोखा की अंतरराष्ट्रीय पहचान में अपना घर आश्रम का भी जुड़ना हम सब के लिए सौभाग्य का विषय है। दीप प्रज्वलन के साथ प्रारंभ हुए इस कार्यक्रम में वक्ताओं ने सेवा और उसके महत्व को इंगित करते हुए अपना घर के निर्माण में जिन भी लोगों ने अपना सहयोग किया है उन सब के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए विश्वास व्यक्त किया कि अपना घर आश्रम नोखा सेवा का एक विशेष प्रकल्प बनेगा जहाँ अनाथ, असहाय, पीड़ित और रोगी प्रभु जी की सेवा जारी रहेगी।

नोखा आश्रम के अध्यक्ष बृजरतन तापड़िया ने अध्यक्षीय प्रतिवेदन प्रस्तुत किया वहीं धन्यवाद सचिव रमेश व्यास ने व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन सीकर से आए हुए कवि व लेखक विष्णु पारीक ने किया।

संस्था की किरण झंवर ने बताया कि लोकार्पण के पश्चात देशभर के 15 अपनाघर आश्रमों से आये प्रतिनिधियों व 4 सेवा समितियों के पदाधिकारियों का संस्था महाअधिवेशन डॉ. बी एम भारद्वाज की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ जिसमें आगामी कार्यक्रमों व विस्तार योजनाओं पर चर्चा की गई। कल प्रातः 9:00 बजे नोखा की बेटियों द्वारा बनवाए गए “अन्नपूर्णा प्रसादालय” का लोकार्पण डॉ. माधुरी भारद्वाज और महाराज राधा कृष्ण के कर कमलों से किया जाएगा।कल की कथा 10:00 बजे से प्रारंभ होकर 2:00 बजे तक चलेगी।

आज दोपहर 2:00 बजे से प्रारंभ हुई कथा में गोवत्स पूज्य महाराज श्री राधा कृष्ण जी ने नानी बाई के मायरे को आगे बढ़ाते हुए भगवान कृष्ण और भक्तों के साथ उनके संबंधों के अनेक प्रसंगों से श्रोताओं को भावविभोर कर दिया। लोगों की आंखों में भक्त और भगवान के मिलन और एक दूसरे की लीलाओं को सुनकर अश्रुधार बह चली।

आज लोकार्पण कार्यक्रम और कथा में नोखा, उसके आसपास व संपूर्ण भारतवर्ष से हजारों हजार लोग उपस्थित हुए। भोजन प्रसादी के पश्चात कथा का आनंद लेते हुए सभी ने अपना घर आश्रम नोखा के साथ अपने आप को जोड़ने का संकल्प किया।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply