दिल्ली में आयेजित राष्ट्रीय सेमिनार में डॉ शमशाद का हुआ सम्मान

चूरूI नेशनल काउंसिल फ़ॉर प्रमोशन ऑफ उर्दू लैंग्वेज,डिपार्टमेंट ऑफ हायर एजुकेशन, मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रायोजित व माइनॉरिटी कम्युनिटी टीचर्स एसोसिएशन दिल्ली द्वारा बस्ती हज़रत निज़ामुद्दीन में आयेजित राष्ट्रीय सेमिनार”उर्दू तालीम व तआल्लुम में असातज़ा का किरदार और जिम्मेदारियां”विषय पर राजस्थान उर्दू लेक्चरर्स संघ के प्रदेशाध्यक्ष चूरू निवासी डॉ शमशाद ने बतौर गेस्ट ऑफ ऑनर अपना व्याख्यान देते हुए कहा कि उर्दू शिक्षण व भाषा विकास के साथ साथ समाज व राष्ट्र के प्रति एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी टीचर्स के कंधों पर होती जिसे बख़ूबी अंजाम दिए जाने की बेहद ज़रूरत है।इस अवसर पर डॉ शमशाद को प्रशस्ति पत्र ,बुके व शील्ड देकर उर्दू भाषा व शिक्षण में बेहतर परफॉर्मेंस पर मुंशी प्रेमचंद अवार्ड 2020 से सम्मानित किया इस मौके पर दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर नासिर कमाल इब्ने कंवल, जामिया मिल्लिया दिल्ली के प्रोफेसर कौसर मज़हरी, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग के असिस्टेंट डायरेक्टर डॉ शुऐब रज़ा खान, प्रोफेसर ग़ज़नफर अली, डॉ राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल के इंचार्ज डा सैय्यद अहमद ,माइनॉरिटी कम्युनिटी टीचर्स एसोसिएशन के चेयरमैन शकील अहमद जैसी नामवर हस्तियां मौजूद रही। माइनॉरिटी कम्युनिटी टीचर्स एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी चौधरी अरशद अली ने स्वागत भाषण दिया।एम सी टी ए के सदर खुर्शीद मुज़म्मिल ने सभी का आभार व्यक्त किया।कार्यक्रम का संचालन रिसर्च स्कॉलर शादाब शमीम ने किया।

Leave a Reply

WhatsApp Us whatsapp
Click To Join Whatsapp Group Fo Daily News Updates. whatsapp
error: CONTENT IS PROTECTED!
%d bloggers like this: