विज्ञान को रोचक ढंग से समझाने के लिए शिक्षक बने जमूरे और उस्ताद

चूरू। राजकीय पारख बालिका माध्यमिक विद्यालय चूरू में आयोजित पांच दिवसीय गैर आवासीय विषयगत प्रशिक्षण शिविर में विज्ञान की कक्षा में ध्वनि के कंसेप्ट को समझाने के लिए गतिविधि आधारित शिक्षण करवाया जा रहा है। जिसमें जम्मूरे और उस्ताद के खेल के द्वारा इसको रोचक बनाने का प्रयास किया गया है साथ ही एक कुतूहल पैदा कर बच्चों का ध्यानाकर्षण किया जा रहा है और खेल खेल में बच्चों को कैसे शिक्षा दी जाए यह समझाने का प्रयास किया गया है। यह शिविर 26 फरवरी से 1 मार्च 2020 तक आयोजित किया गया था।

इनका कहना है

हमने जो जमूरे का ध्वनि से सम्बन्धित खेल खेला उस illusion का नाम vear हॆ अर्थात् visually awaked auditory response इसमे मध्य मस्तिष्क की सुनने व देखने की nerve Auditory and visualary nerve अपने सम्मिलित रूप से ध्वनि की दिशा का सही आभास कराती हॆ ध्वनि भेदी बाण चलाने के लिए एक अभ्यास किया जाता था कि ये नर्व स्वतंत्र कार्य कर सकें। मेडिटेशन के साथ संगीत इसीलिए सुना जाता हॆ परन्तु संगीत ईयर फोन से सुनना उपयुक्त होता हॆ। इसी इल्यूजन के आधार पर 8D music आया हॆ जिसे ईयरफोन द्वारा आंखे बन्द कर सुना जाता है। – शिव कुमार शर्मा , शिक्षक, चूरू

Leave a Reply

WhatsApp Us whatsapp
Click To Join Whatsapp Group Fo Daily News Updates. whatsapp
error: CONTENT IS PROTECTED!
%d bloggers like this: