IMG 20210401 WA0078

डाॅ. दिप्ती वाहल को फिर से मिली मीरा भारत शाखा के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी

5
(1)

बीकानेर। भारत विकास परिषद की मीरा भारत शाखा का दायित्व ग्रहण समारोह बुधवार रात को औद्योगिक क्षेत्र रानी बाजार के पार्क पैराडाइज परिसर में होली मिलन के साथ आयोजित किया गया। कार्यक्रम में स्त्री रोग विशेषज्ञ डाॅ.दिप्ती वाहल ने अध्यक्ष, सुसन भाटिया ने सचिव और छवि गुप्ता ने लगातार दूसरे सत्र में पुनः दायित्व ग्रहण किया। इनके अलावा नई सदस्यों, अन्य पदाधिकारियों, विभिन्न प्रकल्प प्रभारियों ने शपथ ग्रहण कर परिषद के आदर्शों,उद्धेश्यों और उनकी अन्तर्भुत मर्यादाओं में दृृढ़ आस्था प्रकट की।
मुख्य अतिथि भारत विकास परिषद की पूर्व महिला प्रांतीय प्रमुख, पुष्करणा संदेश की मुख्य संपादिका व लेखिका डाॅ..बसन्ती हर्ष ने इंडिया-चाइना वार के बाद गठित भारत विकास परिषद के सम्पर्क, सहयोग, संस्कार, सेवा व समर्पण के उद्ेश्यों व कार्यों से अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि नव निर्वाचित पदाधिकारी सदैव परिषद के संविधान, नियमों व निर्देशों के अनुरूप् पूर्ण निष्ठा, लगन तथा अनुशासन के साथ अपने दायित्वों का निर्वाह करते हुए परिषद के गौरव बढ़ाने का प्रयास करें।
कार्यक्रम अध्यक्षता करते हुए ’’ बेटी बचाआंें, बेटी पढ़ाओं’’ प्रकल्प की प्रांतीय प्रभारी कीर्ति शर्मा ने कहा कि मानव सेवा और संस्कारों को सर्वोपरि मानते हुए नव निर्वाचित पदाधिकारी विभिन्न प्रकल्पों में समन्वय व आपसी सहयोग के साथ कार्य करें। उन्होंने कहा कि वर्ष 2016 में स्थापित मीरां शाखा ने भारत विकास परिषद के विविध प्रकल्पों में अनुकरणीय कार्य किए हैं। डाॅ.दिप्ती वाहल मुख्य संरक्षिका श्रीमती शशि चुग, संस्थापक सुषमा मेहंदीरता व सभी पदाधिकारी व सदस्यों ने समर्पित भाव से कार्य कर अलग पहचान बनाई । इस पहचान को आगे बढ़ाते हुए व्यक्तित्व, चरित्र निर्माण और सेवा व संस्कार के क्षेत्र में कार्य करें।
संस्था की मुख्य संरक्षक श्रीमती शशि चुग ने वर्चुल माध्यम से बताया कि दूसरी बार पुनः निर्वाचित अध्यक्ष डाॅ. दिप्ती बहल व सभी टीम ने बीते वर्ष करोना काल के दौरान लोगों में बचाव के लिए जागृति लाने, एस.डी.काॅन्वेंट द्वारा संचालित शांति निवास वृृद्ध आश्रम सहित विभिन्न गरीब, असहाय व बेसहारा लोगों को राशन व चिकित्सा व सेवाएं सुलभ करवाई। उन्होंने कहा कि भारत विकास परिषद एक सेवा व संस्कार उन्मुख अराजनीतिक, सामाजिक, सांस्कृतिक संस्था है, जो स्वामी विवेकानंद के आदर्शों को अपनाते हुए मानव जीवन के सभी क्षेत्रों (संस्कृृति, समाज, शिक्षा, नीति,अध्यात्म व राष्ट्रप्रेम आदि) में भारत के सर्वांगीण विकास के लिए समर्पित है।
नव निर्वाचित अध्यक्ष डाॅ. दीप्ति वाहल ने शेर ’’ वो खुद ही नाप लेते हैं बुलंदिया आसमानों की, परिंदों को नहीं दी जाती है तालीम उड़ानों की’’ सुनाते हुए कहा कि भारत विकास परिषद सेवा की गंगा, संस्कार का मंदिर, सम्पर्क की सरिता है, इसमें भागीदारी निभाएं तथा सेवा के प्रकल्पों में आपसी समन्वय व सहयोग से कार्य करें। समारोह में सचिव सुसन भाटिया ने संस्थान की गतिविधियों की तथा वित सचिव छवि गुप्ता ने लेखा जोखा की जानकारी दी। सुहानी शर्मा ने एकल गीत तथा सभी सदस्योें ने सामूहिक रूप् से वंदे मातरम्् व राष्ट्रगान की प्रस्तुति दी। अतिथियों व संस्था का परिचय श्रीमती चन्द्र प्र्रभा सिंह व पूजा पारीक ने दिया। समारोह में संगीता चतुर्वेदी, अंजू पोपली, ऋतुु मित्तल, रेनु माथुर और हेमा सिंह ने अतिथियों व पदाधिकारियों को अर्पणा भेंट कर सम्मान किया। होली मिलन समारोह में सदस्याओं ने हिन्दी, राजस्थानी व पंजाबी गीतों के मुखड़ों के साथ नृृत्य कर एक दूसरे को बधाई दी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply